Home Weightloss 9 योग आसन जो वजन कम करने में सहायता कर सकते है

9 योग आसन जो वजन कम करने में सहायता कर सकते है

by admin

हजारों साल पहले सिंधु घाटी सभ्यता में प्राचीन लोगो के द्वारा नाजुक ताड़ के पत्तों पर लिखे ज्ञान ने आज आधुनिक और अभिनव तरीके से वजन घटाने की इस शानदार पद्धति को जन्म दिया। योग का उल्लेख ऋग्वेद में भी है। शोधकर्ताओं के अनुसार, योग की कला एक हजार साल से भी ज्यादा पुरानी है। योग को ऋषियों और ब्राह्मणों द्वारा विकसित किया गया था, जिन्होंने इसके बारे में उपनिषदों में लिखा है। अपने जन्म के बाद, योग का ज्ञान कई सालों तक विकसित हुआ और उस प्रारूप में आया जिसे अब हम योग के रूप में अभ्यास करते हैं।

योग के 5 बुनियादी सिद्धांत: 

  • व्यायाम (एक्सरसाइज)
  • खुराक (डाइट)
  • श्वसन (ब्रीथिंग)
  • विश्राम (रिलैक्सेशन)
  • ध्यान (मैडिटेशन)

क्या योगासन वजन घटाने में सक्षम है?

योग की सहायता से अनेक लोगों को वजन कम करने लाभ मिला है। पर ये एक आम बहस का विषय है कि क्या योग करने से वजन घटता है?   बहुत से लोग मानते हैं कि सिर्फ योग करने से वजन कम नहीं होता है। वज़न कम करने के लिए योग के साथ आपको एक स्वस्थ और संतुलित आहार लेना चाहिए क्योंकि यह आपके दिमाग और शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ वजन कम करने में भी मदद करता है। योग आपको अधिक सचेत बनाता है। योग करने के बाद आप स्वस्थ भोजन ग्रहण करने के लिए प्रेरित होंगे और वसा (फैट) युक्त खाने से परहेज करेंगे। 

ये तो सभी को ज्ञात है कि वजन कम करने के दो महत्वपूर्ण पहलू हैं: स्वस्थ भोजन और व्यायाम। वजन घटाने के लिए योग मुद्राएं इन दोनों पहलुओं पर जोर देती है।

योग केवल शरीर को शक्तिशाली बनाने वाले कुछ आसनों तक सीमित नहीं है। इसके और भी कई लाभ हैं, जैसे:

  • लचीलापन बढ़ाना
  • श्वसन क्रिया को सदृढ़ करना
  • बेहतर ऊर्जा और जीवन शक्ति
  • संतुलित मेटाबोलिज्म (चयापचय क्रिया)
  • पुष्ट (एथलेटिक) स्वास्थ्य क्षमता में वृद्धि
  • मांसपेशियों कि सेहत में सुधार
  • बेहतर (हृदय) कार्डियो स्वास्थ्य
  • वज़न घटाना
  • तनाव प्रबंधन

तनाव आपके शरीर और दिमाग पर विनाशकारी प्रभाव डाल सकता है। यह दर्द, चिंता, अनिद्रा और ध्यान केंद्रित करने में असमर्थता का कारण बन सकता है। यह भी देखा गया है कि तनाव वजन बढ़ने का मुख्य कारण हो सकता है। परन्तु, यदि आप नियमित योग करते हैं तो आपको तनाव काम करने में मदद मिल सकती है।

तनाव प्रबंधन के साथ, योग के शारीरिक लाभ एक व्यक्ति को वजन कम करने और अच्छे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं।

योग के महत्वपूर्ण आसन जो आपकी वजन घटाने में सहायता करते हैं

कोई भी योगासन वज़न घटाने में तुरंत असर नहीं दिखाता क्योंकि सभी आसन काफी सरल होते हैं। ये मुख्य रूप से शरीर के लचीलेपन को बढ़ाने, एकाग्रता में सुधार और आपकी मांसपेशियों को टोन करने पर ध्यान केंद्रित करते हैं। एक बार जब आपका शरीर इन आसनों से अभ्यस्त हो जाए, तो आप वजन घटाने के लिए योग आसनों का अभ्यास करना शुरू कर सकते हैं।

वजन घटाने के लिए कुछ योग आसन और योग टिप्स नीचे दिए गए हैं।

1. चतुरंग दंडासन – प्लैंक पोज

चतुरंग दंडासन आपके कोर (आंतरिक शक्ति) को मजबूत करने का सबसे अच्छा तरीका है। यह देखने में जितना आसान लगता है, इसके फायदे उतने ही ज्यादा हैं। जब आप इस योगसन की मुद्रा में होंगे, तब आपको इसका असर अपने पेट की मांसपेशियों पर महसूस होने लगेगा।

2. वीरभद्रासन – योद्धा मुद्रा 

यह योग मुद्रा आपकी जांघों और कंधों को टोन करने के लिए, साथ ही साथ आपकी एकाग्रता में सुधार करने के लिए अच्छा है। जितना अधिक आप इस मुद्रा का अभ्यास करेंगे, आपको उतने ही बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे। कुछ मिनट्स वीरभद्रासन का अभ्यास करने से आपके चतुःशिरस्क (क्वाड्स) को काफी लाभ मिल सकता है। वारियर III मुद्रा आपके पीठ, पैरों और बाहों को टोन करने के साथ-साथ आपके संतुलन को बेहतर बनाने के लिए लाभदायक है। यह आपके पेट को टोन करने में भी मदद करता है और यदि आप इस अवस्था को बनाए रखते हुए अपने पेट की मांसपेशियों को सिकोड़ते हैं तो आपको पेट कि चर्बी काम करने में मदद मिल सकती है। जब आप ऐसा करेंगे तो आपको अपना पेट एकदम सपाट दिखेगा।

3. त्रिकोणासन – त्रिभुज मुद्रा

त्रिकोणासन पाचन में सुधार करने के साथ-साथ पेट और कमर में जमा चर्बी को कम करने में मदद करता है। यह पूरे शरीर में रक्त परिसंचरण (ब्लड सर्कुलेशन) को सुधारता है। इस आसन की पार्श्व गति (लेटरल मोशन) आपको कमर से अधिक वसा जलाने और जांघों और हैमस्ट्रिंग में अधिक मांसपेशियों के निर्माण में मदद करती है। हालांकि यह मुद्रा आपकी मांसपेशियों को दूसरी योग मुद्राओं की तरह प्रभावित नहीं करती है, लेकिन यह आपको वह सारे लाभ देती है जो अन्य आसन देते हैं। यह संतुलन और एकाग्रता में भी सुधार करता है।

4. अधो मुख संवासन (डाउनवर्ड डॉग पोज)

अधो मुख संवासन विशिष्ट मांसपेशियों पर थोड़ा अतिरिक्त ध्यान देकर आपके पूरे शरीर को टोन करता है| यह आपकी बाहों, जांघों, हैमस्ट्रिंग और पीठ को मजबूत करने में मदद करता है। इस मुद्रा को धारण करने और अपनी श्वास पर ध्यान केंद्रित करने से आपकी मांसपेशियां प्रभावित एवं टोन होती है, साथ ही साथ आपकी एकाग्रता और रक्त परिसंचरण (ब्लड सर्कुलेशन) में सुधार होता है।

5. सर्वांगासन – शोल्डर स्टैंड पोज

सर्वांगासन आपकी ताकत बढ़ाने से लेकर पाचन में सुधार तक कई लाभ प्रदान करता है। यह मेटाबोलिज्म (चयपचय क्रिया) को बढ़ावा देने और थायरॉइड के स्तर को संतुलित करने के लिए काफी प्रभावशाली है। सर्वांगासन या शोल्डर स्टैंड ऊपरी शरीर, पेट की मांसपेशियों और पैरों को मजबूत करता है।  इसके अलावा यह श्वसन प्रणाली और नींद में भी सुधार करता है।

6. सेतु बंध सर्वांगासन – ब्रिज पोज

सेतु बंध सर्वांगासन या ब्रिज पोज़ अत्यंत लाभदायक है। यह ग्लूट्स (जंघाओं), थायरॉइड हॉर्मोन के साथ-साथ वजन घटाने के लिए बेहतरीन है। ब्रिज पोज़ मांसपेशियों की टोनिंग, पाचन में सुधार एवं हार्मोन को नियंत्रित कर थायरॉइड के स्तर में सुधार करता है। यह आपकी पीठ की मांसपेशियों को भी मजबूत करता है और पीठ दर्द को कम करता है।

7. परिव्रत उत्कटासन – ट्विस्टेड चेयर पोज

परिव्रत उत्कटासन को स्क्वाट का योग संस्करण भी कहा जाता है। लेकिन आपको यह पता होना चाहिए कि यह थोड़ा अधिक तीव्र (इंटेंस) होता है। यह पेट की मांसपेशियों, क्वाड्स और ग्लूट्स को टोन करता है। यह आसन लसीका प्रणाली (लिम्फ सिस्टम) और पाचन तंत्र के काम में भी सुधार करता है। यह वजन कम करने के लिए एक शानदार आसान है।

8. धनुरासन – धनुष मुद्रा

क्या आप अपने बेली फैट (पेट की चर्बी) को कम करने का सबसे अच्छा तरीका ढूंढ रहे हैं? धनुरासन पेट से चर्बी कम करने में मदद करता है, पाचन में सुधार करता है और जांघों, छाती और पीठ को मजबूत करता है। यह आपके पूरे शरीर को स्ट्रेच करता है एवं बेहतर रक्त परिसंचरण (ब्लड सर्कुलेशन) के साथ आपकी मांसपेशियों को मजबूत और टोन करता है।

9. सूर्य नमस्कार 

सूर्य नमस्कार मांसपेशियों को ऊर्जा प्रदान कर उन्हें मज़बूत करने और रक्त प्रवाहित (ब्लड सिरकुलेट) करने के अलावा और भी अन्य लाभ पहुंचाता है। यह अधिकांश प्रमुख मांसपेशियों को स्ट्रेच और टोन करता है, कमर की चर्बी को कम करता है, बाहों को टोन करता है, पाचन तंत्र को स्टिमुलेट (उदीप्त) करता है, और मेटाबोलिज्म को संतुलित करता है। सूर्य नमस्कार अच्छे स्वास्थ्य के लिए एक संपूर्ण पैकेज है और वजन कम करने का सबसे अच्छा तरीका है।

वजन घटाने के लिए पावर योगा पोज: 

वजन घटाने के लिए योग आदर्श है या नहीं, यह सालों से चर्चा का विषय बना हुआ है। पर यह जानना ज़रूरी है कि योग आपके शरीर को टोन करता है और शरीर में जमा अतिरिक्त चर्बी को कम करने में आपकी मदद करता है। लेकिन पावर योगा की कहानी कुछ और ही है। यह योग का एक आधुनिक और गतिशील रूप है जो आपके दिमाग और शरीर को फिर से जीवंत करता है | यह कार्डियोवस्कुलर वर्कआउट की तरह है। पावर योगा वजन घटाने में मदद करने और स्वस्थ शरीर और तनाव मुक्त जीवन को बनाए रखने में मदद करता है। यह सहनशक्ति, लचीलापन और मानसिक ध्यान को भी बढ़ाता है। पावर योग, योग का एक आधुनिक रूप है जिसकी जड़ें अष्टांग योग में हैं। इससे जुड़े आसन आंतरिक गर्मी का निर्माण करते हैं और आपकी सहनशक्ति को बढ़ाते हैं, जिससे आप मजबूत, लचीले और तनाव मुक्त होते हैं। यह व्यायाम का एक शक्तिशाली रूप है जो आपके पूरे शरीर की कसरत कराता है। 

पावर योगा पोज़ आपको आम योग से परे अधिक लाभ देता है, जिसमें निम्न शामिल हैं:

  • यह कैलोरी बर्न करने में मदद करता है। अगर आपने हाल ही में योग शुरू किया है तो पावर योग आपको अधिक कैलोरी जलाने में मदद करेगा। 
  • यह आपके मेटाबॉलिज्म (चयपचय) को बेहतर करता है। 
  • यह आपके पूरे स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है।
  • यह ताकत, सहनशक्ति, लचीलापन और आपके शरीर को टोन करने के लिए लाभदायक है ।
  • यह आपकी एकाग्रता को बढ़ाने में मदद करता है। 
  • इससे तनाव  काफी कम हो जाता है और यह आपको आराम करने में मदद करता है।

पावर योग के आसन

  • वजन घटाने के लिए सबसे अच्छे पावर योगा पोज़ में निम्नलिखित आसन शामिल हैं: 
  • पवनमुक्तासन या पवन मुक्त करने वाली मुद्रा आपको पेट और पेट के क्षेत्र से अतिरिक्त वसा को कम करने में मदद करती है।
  • त्रिकोणासन या तीव्र पार्श्व खिंचाव मुद्रा आपके पेट के आस पास (साइड्स) से वसा को कम करने में मदद करती है। यह आपके दिल की धड़कन को बढ़ाता है और कैलोरी जलाने में मदद करता है। 
  • धनुरासन या धनुष मुद्रा आपको बाहों और पैरों से अतिरिक्त चर्बी को कम करने में मदद करती है। यह आपके शरीर को टोन करने में बहुत मददगार होता है।
  • गरुड़ासन या ईगल मुद्रा उन लोगों के लिए एक आदर्श वजन घटाने का विकल्प है जो पतली जांघों, पैरों, बाहों और हाथों के लिए कसरत करना चाहते हैं।
  • एक पद अधो मुख संवासन: जब उचित श्वसन के साथ इस मुद्रा को किया जाता है, तो यह आपकी बाहों, हाथों, पैरों, जांघों और आपके पेट की मांसपेशियों को टोन करने में मदद मिलती है।
  • यदि आप अपने नितंबों (बटक्स) को मजबूत करना चाहते हैं और अपने पेट की मांसपेशियों को टोन करना चाहते हैं तो भुजंगासन या कोबरा मुद्रा एक बढ़िया विकल्प है। 
  • वजन घटाने के लिए नवासन या बोट पोज सबसे सरल पावर योगा पोज है। यह आपके शरीर की सभी प्रमुख मांसपेशियों पर ध्यान केंद्रित करता है।
  • आपके पावर योग कसरत सत्र को समाप्त करने के लिए शवासन या मृत मुद्रा सबसे महत्वपूर्ण मुद्रा है। शवासन आपकी मांसपेशियों को आराम दिलाने में मदद करता है और मांसपेशियों को नुकसान से बचाता है।

कई अन्य पावर योग आसन हैं जो वजन घटाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं जैसे उत्तानपादासन, वीरभद्रासन, योद्धा मुद्रा, अर्धचंद्रासन, पश्चिमोत्तासन आदि। वजन घटाने और मोटापे को रोकने के लिए पावर योगा कारगर है।

सारांश

योग, मन और शरीर को स्वस्थ रखने की एक महत्वपूर्ण भारतीय कला है। यह उन सब के लिए महत्वपूर्ण है, जो मोटापे से ग्रस्त हैं और वजन कम करना चाहते हैं या जो अपने शरीर को स्वस्थ बनाकर अपने मन को तनावमुक्त रखना चाहते हैं। यह एक सुडौल और स्वस्थ शरीर और तनाव मुक्त दिमाग के लिए सदियों पुराना उपचार है। योग न केवल वजन घटाने में सहायता करता है, बल्कि संतुलित शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को भी बढ़ावा देता है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

प्र: योग करके आप कितना वजन कम कर सकते हैं?

उ: योग करने से भिन्न लोगों में अलग अलग मात्रा में वजन कम हो सकता है। यह व्यक्ति के लचीलेपन (फ्लेक्सिबिलिटी) जैसी चीज़ों पर निर्भर करता है।

प्र: क्या आप योग से पेट की चर्बी कम कर सकते हैं?

उ: जी हां, आप योग की मदद से पेट की चर्बी कम कर सकते हैं। आम स्ट्रेच (खिचाव वाली मुद्राएं) और विभिन्न आसन (जैसे सूर्य नमस्कार) पेट की चर्बी कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं। हालाँकि आपको शरीर के किसी एक भाग से चर्बी को कम करने का प्रयास नहीं करना चाहिए क्यूंकि चर्बी हमारी मांसपेशियों से जुडी होती है और पूरे शरीर से एक साथ कम होती है।

प्र: वजन घटाने के लिए क्या बेहतर है, योग या जिम?

उ: योग और जिम दोनों के अपने-अपने फायदे हैं। योग में अधिक खिंचाव और विश्राम शामिल हैं, जबकि जिम फिटनेस मांसपेशियों के संकुचन से संबंधित है। यह नहीं कहा जा सकता कि वजन घटाने के लिए कोई एक, दूसरे से बेहतर काम करता है। यह प्रत्येक व्यक्ति के अपने शरीर के प्रकार और उनकी पसंद पर निर्भर करता है।

प्र: क्या वजन घटाने के लिए पावर योगा कारगर है?

उ: जी हां, पवार योग वजन घटाने में कारगर है। लंबी अवधि में पवार योग करना काफी लाभदायक होता है। अगर आपको कोई स्वास्थ्य सम्बन्धी दिक्कत है, तो आपको बिना किसी विशेषज्ञ की निगरानी के बिना, पावर योग नहीं करना चाहिए। 

प्र: क्या 20 मिनट योग करने से वजन कम करने में मदद मिलेगी?

उ: हां, 20 मिनट का योग सत्र आपको वजन कम करने में मदद करेगा। सर्वोत्तम परिणामों के लिए, अपनी दिनचर्या में कम कैलोरी वाले आहार को शामिल करें।

प्र: योग के लिए सबसे अच्छा समय कौन सा है?

उ: योग एक ऐसी कसरत है जिसका अभ्यास दिन में किसी भी समय किया जा सकता है। लोग इसे सुबह के समय ऊर्जा के साथ दिन की शुरुआत करने के लिए करते हैं या शाम को भी अपने मन और शरीर को आराम देने के लिए करते हैं।

प्र: योग 30 मिनट में कितनी कैलोरी बर्न करता है?

उ: योग से कैलोरी बर्न करना इस बात पर निर्भर करता है कि आप आसन कैसे करते हैं और कितनी देर तक उस मुद्रा में रहते हैं। आमतौर पर यह सुझाव दिया जाता है कि योग से कैलोरी बर्न पर ध्यान न दें क्योंकि यह अधिक समग्र (होलिस्टिक) तरीके से काम करता है। हालाँकि, यदि ट्रैक किया जाए, तो 30 मिनट का एक पावर योग सत्र लगभग 100–115 कैलोरी तक बर्न कर सकता है।

प्र: क्या दिन में 25 मिनट योग करना काफी है?

उ: हां, 25 मिनट का योग सत्र आपके शरीर और दिमाग को बेहतर और ऊर्जावान बनाने के लिए बहुत अच्छा है। 25 मिनट का गहन (इंटेंस) योग सत्र भी आपको अपना वजन कम करने में मदद कर सकता है।

प्र: मैं 10 दिनों में योग में अपना वजन कैसे कम कर सकता हूं?

उ: वजन घटाने एक क्रमिक (ग्रेजुअल) या धीरे धीरे होने वाली प्रक्रिया है। हालांकि यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होता है, फिर भी 10 दिनों के भीतर 1 इंच की कमी देखी जा सकती है। सूर्य नमस्कार, प्राणायाम, ब्रिज आसन शरीर को टोन करने में मदद कर सकते हैं और नियमित रूप से किए जाने पर आपको कुछ वजन कम करने में मदद कर सकते हैं।

प्र: 7 दिनों में वजन घटाने के लिए कौन सा योग सबसे अच्छा है?

उ: ध्यान केंद्रित श्वास, प्राणायाम, सूर्य नमस्कार और विभिन्न आसन जब नियमित रूप से 7 दिनों के लिए किए जाते हैं तो मानसिक शान्ति और शरीर के वज़न में अंतर देखने में मदद मिल सकता है। 

Source link

related articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More